Wednesday, March 19, 2008

Pehli Chudai


http://139.59.46.128/adult_kahani_stories_hindi_hot_extreme_ends.apk

http://139.59.46.128/adult_kahani_stories_hindi_hot_extreme_ends.apk

हाय फ़्रेंड्स कैसे हो? सब के लंड को मेरा सलाम और प्यारी चूतों को मेरा अतिविशेष प्रणाम। मैं अपना परिचय देता हूं।
मेरा नाम चिंटु है और मैं खाफ़ी हैंडसम दिखता हूं। मेरी हाइट 6" है और लंड मेरा 7 इंच का है जो किसी भी लड़की, औरत को घायल कर सकता है। मैं यहाँ अपनी पहली चुदाई की स्टोरी लिख रहा हूं।


मैं गुजरात के बड़े अच्छे शहर वडोदरा में रहता हूं। मेरे सामने एक मस्त अच्छी बड़े बूब्स वाली औंटी रहती हैं जिसको मैं भाभी कहता हूं। उसकी फ़ीगर 38 29 38 है। उनका नाम पायल भाभी है। उनकी शादी को 8 साल हो गये लेकिन उन्हें अभी तक बच्चा नहीं है।

मैं उनके घर आता जाता रहता था। एक दिन मैं गया तो देखा कोईं नहीं था। मेरे घर पर भी कोई नहीं था। मेरी मोम ने उनके घर खाने को बोला था। मैं दोपहर के टाइम उनके घर गया। फिर हम दोनो ने साथ खाना खाया। खाते समय वो मेरी और देख कर कातिल सी मुस्कुराहट देती थी।
खाना खत्म करने के बाद हम दोनो उनके रूम में बेड पर बैठ कर बातें कर ने लगे। बातों बातों में मैने पूछ लिया कि आपको बच्चा क्यों नहीं होता? उन्होंने कहा कि मेरे पति में कुछ प्रोब्लम है। मैने कहा आपको दुख नहीं होता तो वो एक आह भरकर बोली होता है पर अब ये दुख तुम दूर कर सकते हो। मैने पुछा कैसे?
तो वो धीरे से मेरे पास आकर बोली ऐसे। मैने कहा मुझे कुछ पता नहीं चला? तो उन्होंने मेरे शर्ट के बटन खोल कर किस कर ने लगी। मैं दो मिनट के लिये दंग रह गया फ़िर धीरे से वो मेरे होंठ पर आयी मैने भी उनको किस करना स्टार्ट कर दिया। फिर धीरे धीरे मैने उनके कपड़े उतारे और ब्रा और पैंटी में ले आया। उन्होंने कहा "ये देखने के लिये ही, अब ये तुम्हारे है जो चाहो वो करो" मैने पहली ब्रा उतार कर बूब्स चूसना शुरु किया। उनके मुंह से सिस्कियां निकलने लगी। फिर धीरे धीरे किस करते करते मैं नीचे पैंटी तक पहुंच गया और उसको भी सरका दिया। फिर उनकी चूत को मैं चाटने लगा। वो तो मस्त होके लेट गयी थी। फिर मैने उनके मुंह पे अपना लंड रख दिया और हम 69 पोजिशन में आ गये। हमने 15-20 मिनट तक ऐसा किया।
फिर उसने कहा कि बहुत हो गया अब तुम मुझे और मत तड़पाओ जल्दी अपना मोटा लंड घुसा दो मेरी चूत में। मैं खड़ा हो गया और मेरा लंड उनकी चूत पर रख दिया। और एक ही झटके में घुसा दिया वो तो चीख कर रो पड़ी फिर मैं रुक गया फिर धीरे धीरे स्ट्रोक लगाना शुरु किया उनको भी मज़ा आया। वो भी साथ देने लगी फिर मैं अपनी स्पीड बढ़ाता गया उनसे मुंह से आवाज़ आने लगी
"हा हा यस यस हाजु चोद मने हाजु चोद आ चुत ने फाड़ी ने भोस बनाई दे भेन चोद बाउ वरसो पछि चोदवा मल्यु छे चोद तु आजे चोद मने" और ये सुनकर मेरी स्पीड डबल हो गयी फिर मेरा पानी छुटने वाला था। मैने बोला तो वो कहने लगी कि चोदो और चोदो भर दो मेरी चूत तुम्हारे पानी से और मैं ने एक आक्कहिरी झटका दिया और छूट गया मेरा पानी। अब मैं उनके ऊपर लेट गया।

उस दिन हम ने 4 बार अलग-अलग तरीके से चुदाई की। और अब भी हम महीने में 3-4 बार ऐसा करते है। तो फ़्रेंड्स मेरी स्टोरी कैसी लगी? आशा है, आपके लंड और चूत से पानी निकला हो।
कोई भी गुजरात की लड़की, भाभी, माँ, बहन या कोई भी औरत अच्छी चुदाई चाहती है तो मेल मी एट www.ishq_14399@yahoo.com।

http://139.59.46.128/adult_kahani_stories_hindi_hot_extreme_ends.apk

Rate This Story:

Contact Form

Name

Email *

Message *